lalu-prasad-yadav

मंच पर सीट नहीं मिला धरती पर बैठना पड़ा तो लालू को धरतीपुत्र कह रहे है राजद समर्थक..

79

मंच पर सीट नहीं मिला धरती पर बैठना पड़ा तो लालू को धरतीपुत्र कह रहे है राजद समर्थक .. नितीश वाकई राजनीती के माहिर है या लालू जी क्या ?? कभी लालू भारी तो नितीश इस सब क्या हो रहा है बिहार में ….




लालू के समर्थक नितीश कुमार को गिरगिट कहने में लगे है तो नितीश कुमार के समर्थक बचाव में आ गए .. कौन कहता है कि नितीश जी गिरगिट है नितीश जी बहुते सम्झदार है लालु जी को धरती पे कुछ सोच समझ कर बैठाएंगे होगें  इसमें मे भी नितीश कुमार कउनो ना कउनो चाल होगा… लालू नितीश दोनों चाल रहे है राजद और jdu समर्थक के विचारो से किन्तु जनता बेहाल है प्रत्रकार का हत्या होता हर माह में केवल जिला बदल जा रहा है

एक समय था लालू से बिहार को जानते थे इनके अटपटे कार्य जो बिहार का पहचान बन गया था युग बदला तो नेता बदले नितीश कुमार जब से मुख्यमंत्री बने काफी परिवर्तन आया बिहार का छवि बदला था किन्तु लालू से जुड़ने के बाद ऐसा लगता लालू युग आ गया नितीश कुमार लालू के अधीन मुख्यमंती है लालू को धरती पर बैठ देख बिहार के राजनीती में नया मोड़ आ गया लालू नहीं नितीश कुमार ही सबकुछ है ऐसा लगने लगा है अब लगता है लालू के बुढ़ापा के साथ-२ लालू युग का भी बुढ़ापा आ गया है क्या बिहार में हत्या और लूट जैसे कार्यो का भी बुढ़ापा आ के अंत करेंगे नितीश कुमार??






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *